तैयार है एक और धोनी
तैयार है एक और धोनी

तैयार है एक और धोनी

0

झारखण्ड में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है ये सभी जानते हैं।  समय समय पर देश का नाम झारखण्ड के खिलाडियों ने ऊँचा किया है।  महेंद्र सिंह धोनी को तो लगभग सारी दुनिया में लोग जानते हैं।  ऐसी ही एक और प्रतिभा झारखण्ड से आने को तैयार है जिसका नाम है पिंकी तिर्की।

jharkhand2_nukkadtimesपिंकी तिर्की झारखण्ड उड़ीसा के सीमावर्ती क्षेत्र से आती है।  वो एक दिहाड़ी मज़दूर है जो बड़बिल में रेलवे साइडिंग में दिहाड़ी मजदूरी करती है। दिन भर की दिहाड़ी से आने वाले पैसे से उसका घर चलता है।  शाम में वो क्रिकेट के मैदान में होती है जहाँ उसकी बल्लेबाजी देखने लायक होती है।  धोनी की  तरह ही पिंकी तिर्की विकेटकीपर बल्लेबाज है। झारखण्ड अंडर 19 में उसका पहले ही सेलेक्शन हो चूका है और सम्भावना व्यक्त की जा रही है कि भविष्य में वो राष्ट्रीय टीम में भी दिखाई पड़ सकती हैं।

ऐसी ही एक और महिला क्रिकेट खिलाडी है जिसका नाम रश्मि गुड़िया है।  उसके घर की भी माली हालत अच्छी नहीं है। उसके पिता जंगल से लकड़ियां काट कर बेचते हैं घर चलने के लिए। रश्मि गुड़िया झारखंड के साथ पूर्वी जोन से भी खेलती है और नवंबर में उड़ीसा के खिलाफ शतक लगा कर झारखंड को जीत दिलाई थी। उसका चयन भी राष्ट्रीय टीम में होने की संभावना है।

jharkhand1_nukkadtimesखेल के लिए झारखंड की मिट्टी सोना-हीरा उगलती है। जयपाल सिंह, मनोहर टोपना, विमल लकड़ा, असुंता लकड़ा, महेंद्र सिंह धोनी, वरुण आरोन, सौरभ तिवारी…सब झारखंड की मिट्टी से निकले और देश दुनिया में अपने खेल का जौहर दिखाया। पर खेल संघों और सरकार की उपेक्षा का नतीजा है कि कभी खिलाड़ियों के समोसा चाय बेचने की खबर आती है तो कभी हड़िया।

image courtesy: News18

Share.

Leave A Reply

Powered by virtualconcept.in