दिल्‍ली के उपराज्‍यपाल नजीब जंग ने
दिल्‍ली के उपराज्‍यपाल नजीब जंग ने

दिल्‍ली के उपराज्‍यपाल नजीब जंग ने इस्‍तीफा दिया

0

नुक्‍कड़ टाइम्‍स ब्‍यूरो, नई दिल्ली। दिल्‍ली के उपराज्‍यपाल नजीब जंग ने गुरुवार को इस्‍तीफा दे दिया। उन्‍होंने केंद्र सरकार को अपना सौंपा। जंग के इस्तीफे पर कांग्रेस नेता अजय माकन ने पूछा- मोदी और केजरीवाल में क्या डील हुई? अगर कोई आरएसएस नेता उपराज्‍यपाल बना तो कांग्रेस इसका सख्‍त विरोध करेगी।

जंग को 9 जुलाई 2013 को दिल्‍ली का उप राज्‍यपाल बनाया गया था। उस समय कांग्रेस नीत यूपीए सरकार थी। अपने इस्‍तीफे में जंग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल को धन्‍यवाद दिया है। साथ ही, दिल्‍ली में एक साल के लिए राष्‍ट्रपति शासन के दौरान सहयोग के लिए जनता काे खासतौर से धन्‍यवाद दिया। उन्‍होंने कहा कि जनता के प्रेम और सहयोग के कारण ही दिल्‍ली में प्रशासन सुचारू रूप से चला।

इसी बीच, दिल्‍ली के मुख्‍य सचिव और अतिरिक्‍त सचिव ने केंद्रीय गृह सचिव से मुलाकात की है। नजीब जंग के इस्‍तीफे के बाद यह मुलाकात काफी अहम मानी जा रही है। गौरतलब है कि दिल्‍ली का मुख्‍यमंत्री बनने के बाद से ही केजरीवाल और नजीब जंग के बीच खीेचतान चलती रही और अधिकारों की लड़ाई को लेकर विवाद अदालत तक चला गया।

जंग दिल्ली के 20वें उपराज्यपाल थे। उन्‍होंने शिक्षा के क्षेत्र में जाने की बात कही है। एलजी बनने से पहले वह जामिया विश्‍वविद्यालय के कुलपति थे।

किसने क्‍या कहा

जंग साहब का इस्तीफा बहुत हैरान करने वाला है। भविष्य के लिए उन्हें मेरी शुभकामनाएं। – अरविंद केजरीवाल, मुख्‍यमंत्री दिल्‍ली

जंग भले आदमी हैं, वे केंद्र के साथ फंस गए थे। हमारी सरकार के साथ कई मुद्दों पर उनका मतभेद रहा। – कुमार विश्‍वास, आम आदमी पार्टी

यह जंग साहब का निजी फैसला है। इसका सम्मान किया जाना चाहिए। –  सतीश उपाध्‍याय, भाजपा

Share.

Leave A Reply

Powered by virtualconcept.in