31 मार्च के बाद 500-1000 के पुराने नोट रखना
31 मार्च के बाद 500-1000 के पुराने नोट रखना

31 मार्च के बाद 500-1000 के पुराने नोट रखना अपराध

0

नुक्‍कड़ टाइम्‍स ब्‍यूरो, नई दिल्‍ली। नोटबंदी के बाद मोदी सरकार ने 500 और 1000  रुपये के पुराने नोटों पर एक और कड़ा कदम उठाया है। कैबिनेट ने बुधवार को पुराने नोटों पर एक अध्‍यादेश को मंजूरी दे दी। इसके अनुसार 31 मार्च 2017 के बाद तय सीमा से अधिक 500 और 1000 रुपये के पुराने नोट रखना अपराध माना जाएगा। ऐसे लोगों के खिलाफ अापराधिक मुकदमा दर्ज किया जाएगा। साथ ही, उन्‍हें जुर्माना भी भरना पड़ सकता है।

यह अध्‍यादेश पुराने नोटों के प्रति सरकार और आरबीआई की जवाबदेही खत्‍म करने के लिए है। बैंकों में 30 दिसंबर के बाद पुराने नोट नहीं लिए जाएंगे, जबकि आरबीआई काउंटर पर 31 मार्च 2017 तक इन्‍हें जमा कराया जा सकता है। बता दें कि 8 नवंबर को राष्ट्र के नाम संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1000 रुपये के नोट बंद करने की घोषणा की थी।

क्‍या है अध्‍यादेश में

अध्‍यादेश का नाम The Specified Bank Notes Cessation of Liabilities Ordinance.है। मीडिया खबरों के अनुसार, 31 मार्च के बाद 10 से अधिक अमान्‍य नोट रखने पर जुर्माना लग सकता है और कुछ मामलों में चार साल तक जेल की सजा भी हो सकती है। अध्‍यादेश में पुराने नोटों के लेन-देन पर 5,000 रुपये तक जुर्माने का भी प्रावधान है। इसके उल्‍लंघन पर 50,000 रुपये जुर्माना या बरामद राशि का पांच गुना (इनमें से जो भी अधिक हो) बतौर जुर्माना देना होगा। इस कानून से जुड़े मामलों की सुनवाई नगरीय मजिस्ट्रेट करेगा। हालांकि यह स्‍पष्‍ट नहीं है कि जुर्माने का प्रावधान किस तारीख से लागू होगा।

Share.

Leave A Reply

Powered by virtualconcept.in