गरीबी से तंग महिला ने दो हजार रुपये
गरीबी से तंग महिला ने दो हजार रुपये

गरीबी से तंग महिला ने दो हजार रुपये में नवजात को बेचा

0

नुक्‍कड़ टाइम्‍स ब्‍यूरो, नई दिल्‍ली। ओडिशा में गरीबी से तंग एक मां ने अपने नवजात शिशु को महज 2,000 रुपये में बेच दिया। राष्‍ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) ने इस मामले में मंगलवार को केंद्रपाड़ा के जिलाधिकारी को नोटिस जारी कर चार हफ्ते में जवाब देने को कहा है।

आदिवासी इलाकों में यह है विकास की तस्‍वीर। हाल ही में छत्‍तीसगढ़ में पुलिसवालों द्वारा 16 महिलाओं से रेप और यौन उत्‍पीड़न की घटना सामने आई थी। आयोग ने इस पर भी स्‍वत: संज्ञान लेते हुए राज्‍य सरकार को कारण बताओ नोटिस जारी किया था।

ताजा घटना ओडिशा के केंद्रपाड़ा जिले की है। मीडिया खबरों के मुताबिक, इस आदिवासी महिला को पति ने छोड़ दिया है। महिला के पास न तो घर है और न ही आय का कोई जरिया। वह पहले से ही दो बच्‍चों की मां थी और कुछ दिन पहले ही एक और बच्‍चे को जन्‍म दिया था। उसकी आर्थिक स्थिति बेहद खराब है और उसे सरकार द्वारा चलाई जा रही तमाम योजनाओं का फायदा भी नहीं मिल रहा था। इसलिए उसने मात्र 2,000 रुपये में एक पड़ाेसी के हाथों अपने नवजात बेटे को बेच दिया। >

कुछ मानवाधिकार कार्यकर्ताओं ने NHRC का ध्‍यान मीडिया में आई इस खबर की ओर आकृष्‍ट किया। इस पर संज्ञान लेते हुए NHRC ने केंद्रपाड़ा के जिलाधिकारी को नोटिस जारी कर चार सप्‍ताह में रिपोर्ट देने को कहा है। साथ ही, पूछा है कि पीडि़त परिवार के पुनर्वास और राहत के लिए क्‍या कदम उठाए गए या उठाए जा रहे हैं।

Share.

Leave A Reply

Powered by virtualconcept.in