एक हफ्ते में जवानों का तीसरा वीडियो
एक हफ्ते में जवानों का तीसरा वीडियो

एक हफ्ते में जवानों का तीसरा वीडियो वायरल

0

नुक्‍कड़ टाइम्‍स। BSF और CRPF में अधिकारियों और बदतर सुविधाओं को लेकर सोशल मीडिया के जरिये जवानों की शिकायत के बाद एक और वीडियो वायरल हुआ है। इस बार देहरादून में तैनात फौज के जवान लांस नायक यज्ञ प्रताप सिंह ने अपने आला अधिकारियों पर प्रताडि़त करने का आरोप लगाया है। बीते एक हफ्ते में जवानों का यह तीसरा वीडियो है।

यज्ञ प्रताप का आरोप है कि सेना में अधिकारियों द्वारा जवानों का शोषण किया जाता है। उनसे कपड़े धुलवाए जाते हैं। बच्‍चे खिलाने, गाडि़यां साफ कराने, बूट पॉलिश करने और कुत्‍ते घुमाने जैसे काम कराए जाते हैं। बकौल यज्ञ प्रताप, उसने पिछले साल 15 जून को राष्‍ट्रपति, प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री, गृह मंत्री और सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस को पत्र लिखा। इसमें उसने सैन्‍य अधिकारियों पर जवानों के शोषण का आरोप लगाया था। इसके बाद प्रधानमंत्री कार्यालय से जब आला अधिकारियों से मामले की जानकारी मांगी तब जवान को काफी प्रताडि़त किया गया। फिर उसने सोशल मीडिया पर वीडियो जारी किया। इसमें उसने कहा है कि अधिकारी उसे कोर्ट मार्शल की धमकी दे रहे हैं, जबकि उसने ऐसा कोई काम नहीं किया है।

सोशल मीडिया का सहारा न लें जवान

जवान का वीडियो सामने आने के बाद सेना प्रमुख बिपिन रावत ने शुक्रवार को कहा कि जवान सोशल मीडिया पर जाने के बजाय सीधे हमारे पास आएं। अगर असंतुष्‍ट हैं तब भी सोशल मीडिया की बजाय अन्‍य माध्‍यमों का इस्‍तेमाल करें। सेना प्रमुख बिपिन रावत ने कहा, मैंने देशभर के कमांड मुख्‍यालयों में थल सेना प्रमुख निवारण एवं शिकायत बॉक्‍स लगाने का आदेश दिया है। इसमें कोई भी शिकायत भेज सकता है। यह सुनिश्चित किया जाएगा कि शिकायत करने वाले सैनिकों की पहचान गुप्‍त रहे।

शिकायत करें, नाम गुप्‍त रहेगा

यज्ञ प्रताप का वीडियो आने के बाद सेना ने शुक्रवार को बयान जारी कर कहा कि सेना में इस तरह की शिकायतों के निपटारे के लिए एक व्‍यवस्‍था है। इसी व्‍यवस्‍था के तहत जवान की शिकायत पर गौर किया जा रहा है। इतनी बड़ी फौज में किसी सैनिक की इस तरह की शिकायत को ऐसे ही खारिज नहीं किया जा सकता है।

1. यज्ञ प्रताप सिंह ने और क्‍या कहा, वीडियो देखें

2. CRPF जवान ने पूछा, अर्द्धसैनिक बलों को पेंशन क्यों नहीं? देखें वीडियो…

3. बीएसएफ जवान के खराब खाने की शिकायत गलत

BSF कांस्‍टेबल तेज बहादुर यादव ने खाने को लेकर जो शिकायत की है वह सही नहीं है। गृह मंत्रालय ने प्रधानमंत्री कार्यालय से यह बात कही है। इस वीडियो के सामने आने के बाद पीएमओ ने गृह मंत्रालय से रिपोर्ट मांगी थी। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भी रिपोर्ट तलब की है। बता दें कि बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव जम्‍मू में तैनात है।

तेज बहादुर यादव ने क्‍या कहा था, देखें वीडियो।

Share.

Leave A Reply

Powered by virtualconcept.in