येचुरी ने कहा, मोदी ‘तुगलक’ हैं
येचुरी ने कहा, मोदी ‘तुगलक’ हैं

येचुरी ने कहा, मोदी ‘तुगलक’ हैं

0

नुक्‍कड़ टाइम्‍स ब्‍यूरो, नई दिल्‍ली। विमुद्रीकरण पर माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला किया। उन्‍होंने प्रधानमंत्री को तुगलक करार देते हुए कहा कि फरमान जारी करने के बाद से वह ‘लापता हो गए’ हैं।

येचुरी ने मीडिया रिपोर्ट का हवाला देते हुए कई ट्वीट किए। उन्‍होंने पीएम के जापान दौरे वाला वीडियो शेयर कर लिखा कि जापान में मोदी परेशानी झेलने वाले भारतीयों का मखौल उड़ा रहे हैं। घर में शादी है, पैसे नहीं हैं… ऐसा कहकर वे हंसते हैं। कहा कि मेट्रो शहरों में मुश्किल से मांग के मुकाबले 20-25 फीसदी कैश ही मुहैया कराए गए हैं। ग्रामीण इलाकों की स्थिति तो और भी खराब है। लेकिन अपना फरमान जारी करने के बाद तुगलक लापता हो गए।

नीतियों पर भी निशाना साधा

कैश की किल्‍लत और डॉलर के मुकाबले रुपये में गिरावट पर Demonetisation और ManMadeDisaster हैशटैग वाले ट्वीट में उन्‍होंने एक रिपोर्ट को भी शेयर किया है। वामपंथी नेता ने तंज कसा कि मोदी को अपने एप पर ऐसी प्रतिक्रिया नहीं मिल रही होगी। एक और रिपोर्ट के हवाले से डिजिटल इंडिया पर भी तंज कसा। उन्‍होंने लिखा कि 30 करोड़ रुपये कार्डधारकों में से 29 करोड़ ने इसे स्‍वाइप ही नहीं किया।

विमुद्रीकरण पर 172 आदेश जारी

येचुरी ने सरकार के MinimumGovernance पर भी हमला किया। उन्‍होंने कहा कि मोदी सरकार ने विमुद्रीकरण पर अभी तक 172 आदेश जारी किए हैं। इसे उन्‍होंने जुमलोनॉमिक्‍स (#Jumlanomics) करार दिया। उन्‍होंने दो तरह के 500 रुपये के नोट पर असमंजस और इससे जालसाजी बढ़ने की संभावना वाली एक रिपोर्ट का हवाला भी दिया। उन्‍होंने कहा कि विमुद्रीकरण की घोषणा करते समय क्‍या मोदी ने जाली मुद्रा रोकने को लेकर बड़ी-बड़ी बातें नहीं की थी। उनके काम करने का यही तरीका है। 500 और 1000 रुपये के नोट जारी रखने के फैसले पर येचुरी ने आरोप लगाया कि मोदी दलालों की एक जमात तैयार कर रहे हैं जो गरीबों से ठगी करेगा और आरबीआई काउंटर पर पुराने नोट बदलकर पैसे कमाएगा।

Share.

Leave A Reply

Powered by virtualconcept.in